भारतीय किसान के हालात पर निबंध। 5 sentences about farmer in Hindi Essay.

essay on Indian farmer in Hindi for class 7, the farmer topic in Hindi, essay on problems faced by Indian farmers in Hindi, short paragraph about farmer in Hindi, 10 sentences about farmer in Hindi, short essay on Bhartiya kisan in Hindi, about farmer in Hindi 10 points.

Essay on Indian Farmer in Hindi

भारत कृषि प्रधान देश है। भारत देश की जादातर जनता ग्रामीण क्षेत्र मे रहती है। ग्रामीण क्षेत्र मे रहनेवाले लोगों का प्रमुख व्यवसाय खेती है और खेती करके दिन रात मेहनत करके सारी दुनिया का पेट भरने वाला किसान सबसे अधिक दुखी है, किसान के हालात आज भी अच्छे नहीं है।

भारत देश का प्रमुख व्यवसाय खेती है और खेती के बलपर ही आज अपना देश खड़ा है, इतनी उन्नति कर सका है। किसान धरती पर सारे देश के लिए ईश्वर का दूसरा अवतार माना है। किसान इतना वफादार होता है, जो दिन रात मेहनत करके दूसरे जीवों के लिए अनाज उपजाता है लेकिन अपने परिवार के लिए दो वक्त की रोटी भी ठीक से नहीं कमा पाता है।

आज कल ऐशों आराम की चीजों के दाम बढ़ गए है जो चीजे जीने के लिए इतनी जरूरी नहीं है लेकिन अनाज, सब्जियां, दूध, फल और फूल जो दैनिक जीवन मे अत्यावश्यक चीजे होती है, जिनके ऊपर अपना शरीर टीका हुआ है उनके दाम नहीं बढ रहे है। अनाज, सब्जियां, दूध, फल और फूल यह सब किसान ही अपनी खेती मे उपजाता है, लेकिन उसे अपनी महेनत का सही दाम नहीं मिल रहा है।

भारतीय किसान पर निबंध। Essay on Indian Farmer in Hindi

Essay on Indian Farmer in Hindi

अपने देश को स्वतंत्र हुये 50 से अधिक साल हो गये है फिर भी किसान की हालत पहले जैसी ही है। एक तरफ देश दूसरे ग्रहों पर जाने की तैयारी कर रहा है, नई सड़के, मेट्रो ट्रेन और मिसाइलों का निर्माण कर रहा है और

एक तरफ भारत देश का किसान वही पुराने साधनों का खेती के लिए इस्तेमाल कर रहा है और गरीबी मे अपना जीवन बिता रहा है जो कई सालों से विद्वानों का, देश के युवाओं का और नेताओं का पेट भरने के लिए हल चला रहा है, जो किसान के उपकार को भूल चुका है।

किसान को खेती करने के लिए प्रकृति पर निर्भर रहना पड़ता है। खेती के लिए आवश्यक साधनों को जुटाने के लिए किसान सावकारों से ज्यादा ब्याज से कर्जा लेता है ताकि वो अच्छे बीज, खाद, औजार खरीद सके और उस पैसों से अपनी जरूरते पूरी कर सके और अपना पुराना कर्जा चुका सके।

लेकिन कभी कभी बारिश होती ही नहीं और अगर बारिश हो भी जाती है तो खेती मे सारा पानी पानी हो जाता है जिसके कारण उसकी फसल और मेहनत बर्बाद हो जाती है। अपने हालातों से परेशान होकर भारत देश मे हर साल सौ से अधिक किसान आत्महत्या कर लेते है, यह हमारे देश के लिए दुर्भाग्य की बात है।

अधिक पढे:

विज्ञान वरदान या अभिशाप निबंध

टेलीविज़न पर निबंध हिंदी मे

मेरा स्कूल पर निबंध

बाल श्रम, बाल मजदूरी पर निबंध हिंदी मे

भारतीय किसान पर निबंध। Essay on Indian Farmer in Hindi, भारतीय किसान पर निबंध। Essay on Indian Farmer in Hindi

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *