सिंधुताई सपकाल के प्रेरणादायक अनमोल विचार। Sindhutai Sapkal Quotes

Sindhutai Sapkal Quotes, हजारों अनाथों की माँ सिंधुताई सपकाल, जन्म 14 नवंबर, 1947, महाराष्ट्र, सिंधुताई सपकाल एक Indian Social Worker है, जिन्हे लोग प्यार से माई कहकर बुलाते है, फुटपाथ पर मिले अनाथ बच्चों को गोद मे लेकर उन्हे पाल पोसकर बढ़ा करनेवाली, और इस समाज मे स्वाभिमान के साथ जीने लायक बनानेवाली माँ, सिंधुताई सपकाल एक महान व्यक्तित्व है। आज पूरा भारत देश ही नहीं बल्कि विदेश मे भी उन्हे उनके इस महान कार्य के लिए कई बार सम्मानित किया जा चुका है। आज हम इस पोस्ट मे उनके प्रेरणादायक विचार जान लेंगे।

Sindhutai Sapkal Quotes in Hindi
Sindhutai Sapkal Quotes

इस दुनिया मे कोई किसीका नहीं होता।

Sindhutai Sapkal Quotes

Sindhutai Sapkal Quotes

छोटे छोटे संकट से मत डरो बस चलते रहो, संकट से दोस्ती करना सिखलों।

Sindhutai Sapkal Quotes

Sindhutai Sapkal Quotes

वक्त हमे हिंमत देता है।

Sindhutai Sapkal Quotes

Sindhutai Sapkal Quotes

अगर खुद के लिए नहीं जीना तो औरों के लिए जीना सीखो।

Sindhutai Sapkal Quotes

Sindhutai Sapkal Quotes

तुम आगे जरूर जाओ पर पीछे भी मुड़कर देखना सिखलों। आज इसकी जरूरत है।

Sindhutai Sapkal Quotes

हमारे जीवन का सबेरा निश्चित है, बस जीना सीखो।

Sindhutai Sapkal Quotes

ज़िंदगी मे कभी संकट आए तो उसपर पैर रखकर खड़े हो जाओ, इससे संकट की ऊंचाई कम होती है, और हम श्वास ले सकते है।

Sindhutai Sapkal Quotes

भूक ही जीवन का सबसे बड़ा Challenge है।

कफन जलने दो पर खुद दफन मत हो जाओ।      

संकट से ही हमे ऊर्जा मिलती है, संकट ही हमे राह दिखाता है, संकट हमे नई दृष्टि देता है।

खुद के दुख का प्रदर्शन मत करो खुद के दुख से कमजोर मत हो जाओ।

अगर मैंने दुख से दोस्ती नहीं की होती तो मै यहातक नहीं आ पाती।

फटी हुई ज़िंदगी को सिलाना सीखो।

अगर झगड़ा करना है तो खूब झगड़ लो, पर कल एक ही थाली मे खाना खालो।

प्रेम जरूर करो पर Underground करो।

बनी तो प्रीत नहीं तो प्रेत है।

दुःख को सिर्फ दुःख पहचान सकता है।

हर अनाथ की माई सिंधुताई।

ज़िंदगी मे कभी दुःख आया तो आसू मत बहाओ, आसू के हाथ पकड़कर चलना सीखो।

मैंने ज़िंदगी मे गाड़ी बदली पर ज़िंदगी नहीं बदली।

मुझे ज़िंदगी की हिंमत और रास्ता स्मशान से ही मिला।

जो मिला है उसे मिल बाँटकर खाओ।

हे भगवान हमे हसना सिखादों, पर हम कब रोये इसका स्मरण हमे रहने दो।

ज़िंदगी मे कभी संकट आए तो उसपर पैर रखकर खड़े हो जाओ, इससे संकट की ऊंचाई कम होती है, और हम श्वास ले सकते है।

दूसरों का दुख बाँटकर ले लो, खुद का दुख अपने आप भूल जाओगे।

इंसान की भूक बुरी होती है, इंसान कभी बुरा नहीं होता।

तुम जरूर आगे बढ़ो पर मिट्ठी से रिश्ता मत तोड़ो।

अन्य पढे:

जीवन को नई दिशा देनेवाले 15 विचार

मदर टेरेसा के इंसानियत पर 25 विचार

Summary
Review Date
Reviewed Item
सिंधुताई सपकाल के प्रेरणादायक अनमोल विचार। Sindhutai Sapkal Quotes
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *