स्वामी विवेकानंद के 40 विचार। Swami Vivekananda Thoughts in Hindi

Swami Vivekananda  एक महान, बुद्धिमान, ज्ञानी व्यकित जिन्होंने अपने धार्मिक और अध्यात्मिक ज्ञान से और अपने विचारों के माध्यम से मानव जीवन को सीख दी। Swami Vivekananda का जन्म 12 जनवरी, 1863 कलकत्ता मे हुआ था।

Swami Vivekananda thoughts Hindi

Swami Vivekananda Thoughts in Hindi

उठो, जागो और तब तक तुम ना रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो।

जितना बड़ा तुम्हारा संघर्ष होगा, उतनी ही शानदार तुम्हारी जीत होगी।

इस भ्रम को मीठा दो के तुम एक निर्बल हो, तुम एक अमर आत्मा हो, स्वच्छंद जीव हो।

दिन मे एकबार तो खुद से बात करो, नहीं तो तुम इस दुनिया मे एक सबसे अच्छे इंसान से बात करना रेह जाओगे।

खुद पे भरोसा करो और बाद मे देखो सारी दुनिया आपके कदमो मे होगी।

जब तक आप खुद पे भरोसा नहीं करोगे, तब तक आप भगवान पे भरोसा नहीं करोगे।

थोडी सी मनुष्य की सेवा लाखों जप ध्यान से बढकर है।

जीवन मे जोखिम उठाओ अगर आप जीत गए तो आप नेतृत्व कर सकते है। और अगर आप हार गए तो मार्गदर्शक बन सकते है।

खुद को कमजोर समझना सबसे बडा पाप होता है। इस पाप से बचो।

एक अच्छे चरित्र का निर्माण तो हजार बार ठोकरे खाने के बाद ही होता है।

वो अकेले रहते है। जो दूसरों के लिए जीते है।

ये दुनिया एक व्यायामशाला है जहां पर हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते है।

कौनसा भी कार्य बिना बाधाओं के पूरा नहीं होता जो अंतिम समय तक प्रयास करते है उन्हे ही सफलता मिलती है।

अगर हमारा व्यक्तित्व अच्छा नहीं होगा तो हमारी सुंदरता का कोई उपयोग नहीं है।

खुद के अज्ञान की समझ ही ज्ञान की ओर हमारा पहला कदम है।

दिल और दिमाग के संघर्ष मे दिल की सुनो।

अगर भगवान को हम खुद मे और किसी जीव मे नहीं ढूंढ सकते, तो हम भगवान को कही पर भी नहीं ढूंढ सकते।

जहर क्या है ? कौनसी भी चीज अगर हमारे जीवन मे जरूरत से जादा होजाए, तो वो हमारे लिए जहर बन जाती है। फिर चाहे वो पैसा हो, ताकत हो, भूक हो, या गर्व हो।

जब आप एक काम कर रहे हो तो एक ही काम सबकुछ भूलकर पूरे दिल से करो।

Swami Vivekananda thoughts in Hindi

जिसका देह और मन स्वच्छ नहीं है उसका मंदिर जा कर भगवान की पुजा करना व्यर्थ है।

हमे खुद को हम जैसे है वैसे ही स्वीकार करना चाहिए क्योंकि इस दुनिया मे हमसे भी बुरे नसीब वाले लोग है।

आज जो लोग तुमपर हस रहे है, वो कल आपको देखते ही रह जाएंगे।

जीवन मे जादा रिश्ते होना जरूरी नहीं है पर जो रिश्ते है उन मे जीवन होना जरूरी है।

शक्ति ही हमारा जीवन है। और कमजोरी मृत्यु है।

तुम जो सोचते हो वही बन जाते हो। अगर तुम खुद को ताकतवर समझते हो, तो तुम ताकतवर बन जाते हो, और अगर खुद को तुम कमजोर समझते हो, तो तुम कमजोर बन जाते हो।

लगातार पवित्र विचार करते रहिए क्योंकि बुरे विचारों को नष्ट करने के लिए ये एकमात्र समाधान है।

ब्रह्मांड की सारी शक्तिया हमसे है क्योंकि हम वो होते है जो हमारे ही आँखों पर हाथ रखकर कहते है, की कितना अंधकार है।

तुम विनम्र बनो, साहसी बनो, और शक्तिशाली बनो।

मुक्त हो जाने का साहस करो। जहां तक आपके विचार आपको ले जाते है वहां तक जाने का साहस करो। और इसी नियम को आपके जीवन मे उतारने का साहस करो।

हमारा अनुभव ही हमारा सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है।

जिस शिक्षा से हम अपना जीवन निर्माण कर सके, मनुष्य बन सके, और अच्छे चरित्र का निर्माण कर सके, अच्छे विचारों का संघटन कर सके। वही शिक्षा वास्तव मे शिक्षा कहलाने लायक है

इस दुनिया की सारी ताकत आप मे बसी है आप कुछ भी और सबकुछ कर सकते हो।

जो लोग दूसरों को नुकसान देकर और गलत तरीके से अपनी आजीविका कमाते है, डर उन लोगों का पीछा कभी नहीं छोडता।

जिस दिन आप के जीवन मे कोई समस्या ना आए समझ लेना आप गलत रास्ते पर निकले हो।

जिस समय जो काम करने का निर्णय लिया है ठीक उसी समय उस काम करिए। नहीं तो लोगों का विश्वास उठ जाता है।

अपने लक्ष्य के लिए जीना, लक्ष्य के लिए मरने से कठिन है। जीवन मे इच्छा शक्ति को प्राप्त करलो, परिश्रम करो तो आप अपने जीवन के लक्ष्य को पा सकोगे।

जो व्यकित आपके चेहरे पर हंसी ला सकती है वही व्यकित आपके जीवन को अर्थ दे सकती है।

सच को एक हजार तरीकों से कहा जा सकता है फिर भी हर एक तरीका सच हो सकता है।

Note: अगर आपको Swami Vivekananda के प्रेरणादायक विचार पसंद आते है तो Facebook और Whatsapp पर जरूर Share कीजिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *